कम समय में CBSE बोर्ड एग्जाम की तैयारी कैसे करें, आइए जानें

CBSE Board Exam से पहले इन 10 बातों का रखें ध्यान

कम समय में Board Exam की तैयारी करना काफी मुश्किल होता है लेकिन कुछ टिप्स को ध्यान में रखकर आप कम समय में भी CBSE बोर्ड एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं।

12 March 2021

  • 379 Views
  • 4 Min Read

  • बोर्ड की परीक्षाओं (Board Exam) को लेकर आमतौर पर Students दबाव महसूस करते हैं। वहीं, कोरोना काल (Covid 19) के बाद छात्रों के लिए बोर्ड परीक्षाएं और मुश्किल होने वाली हैं। सीबीएसई ने ऑफलाइन (CBSE Online) ही बोर्ड परीक्षाएं लेने का फैसला लिया है। जबकि करीब एक साल से Students घर पर बैठ कर ही पढ़ाई कर रहे हैं और ऑनलाइन (Online) पढ़ाई के आदी हो चुके हैं।

     

    Students पर बोर्ड परीक्षाओं (Board Exam) में अच्छे नंबर (Marks) लाने का दबाव भी होता है। वहीं, उन्हें साल भर की मेहनत और अपनी काबिलियत को केवल 3 घंटे में कागज़ पर साबित करना होता है। यदि परीक्षा हॉल (Exam Hall) में आप Perform नहीं कर पाए तो साल भर की मेहनत बर्बाद हो जाएगी। 

     

    आपको समझना है कि कैसे हम स्मार्ट तरीके से इस दबाव को कम कर सकते हैं और अपना बेस्ट दे सकते हैं। तो चलिए आज इसी बात पर चर्चा करें कि परीक्षा हॉल (Exam Hall) में बैठते हुए किन बातों का ख्याल रखना है और किन बातों के बारे में बिल्कुल नहीं सोचना। लेकिन उससे पहले जानते हैं एग्ज़ाम (Exam) से पहले की तैयारी के 5 ज़रूरी Tips।

     

     

    Board Exams: परीक्षा केंद्र  में ऐसे करें बेहतर प्रदर्शन

     

     

     

    अब बात करते हैं परीक्षा केंद्र (Examination Center) के अंदर काम आने वाली उन ज़रूरी बातों की जिन्हें ध्यान में रखकर आप बिल्कुल कम दबाव लेकर अपना बेस्ट परफॉर्मेंस दे पाएंगे और अच्छे मार्क्स (Marks) ला पाएंगे।

     

    ज़रूरी सामान साथ रखें

     

    कोरोना (Covid 19) के इस दौर में किसी के साथ पेन, पेंसिंल, स्केल (Pen, Pencil, Scale) आदि शेयर करने से बचें। इसलिए पहले ही परीक्षा से संबंधी सामान को अपने साथ रखें ताकि परीक्षा (Exam) में आपका समय बर्बाद ना हो और ज़रूरी सामान जैसे एडमिट कार्ड (Admit Card) आदि भूलने पर अतिरिक्त परेशानी ना हो, इससे  असर आपके परफॉर्मेंस पर नहीं पड़ेगा । वहीं, एक अतिरिक्त पेन भी साथ रखना ना भूलें। 

     

    शांत और केंद्रित रहें

     

    समय पर परीक्षा केंद्र (Examination Center) पहुंचे और अपनी सीट पर आराम से बैठ जाएं। परीक्षा केंद्र  में अपने मन को जितना हो सके शांत रखें। आस पास के शोर या दूसरी गतिविधियों पर ध्यान ना दें। बेचैनी  होने की स्थिति में लंबी गहरी सांस लें और पानी पीयें । परीक्षा के समय अपने ध्यान को केवल प्रश्नों के उत्तर देने पर केंद्रित करें।

     

    प्रश्न पत्र ध्यान से पढ़ें 

     

    आमतौर पर परीक्षा शुरू होने से पहले 15 मिनट का समय प्रश्न पत्र (Question Paper) को पढ़ने के लिए दिया जाता है। इस समय का पूरा इस्तेमाल प्रश्न पत्र को ध्यान से पढ़ने में करें। कई बार प्रश्नों को घुमाकर पूछा जाता है। यदि शुरूआत में ही हर प्रश्न को अच्छे से समझ लेंगे तो गलती की संभावनाएं कम हो जाएंगी।

     

    धैर्य से काम लें

     

    कठिन प्रश्न पत्र आने पर घबराएं नहीं। ध्यान रखें यदि प्रश्न पत्र मुश्किल है तो सभी के लिए कठिन हो सकता है । ऐसे में भी आपको बेहतर से बेहतर करने पर ध्यान देना है। यही बात आसान प्रश्न पत्र आने पर लागू होती है। ऐसे में भी ज्यादा एक्साइटमेंट सही नहीं है।

     

    प्राथमिकता तय करें

     

    पेपर शुरू करने से पहले अपनी प्राथमिकता तय कर लें। जिन प्रश्नों के जवाब आपको अच्छे से आते हैं उन्हें पहले करें। मुश्किल प्रश्नों को करने में पहले समय बर्बाद ना करें। वहीं, कोशिश करें कि एक सेक्शन के सभी प्रश्नों के उत्तर एक साथ दें।

     

    मतलब की बात लिखें

     

    कई छात्र (Student) समझते हैं कि ज़्यादा लिखने से ज़्यादा नंबर आते हैं। लेकिन 3 नंबर के प्रश्न में 3 ही नंबर आएंगे, उससे ज़्यादा नहीं। इसलिए पहले प्रश्न को समझें और सीमित शब्दों में सीधा जवाब दें। ज़्यादा  लिखने के चक्कर में उत्तर को बेवजह ना घुमाएं। हो सकता है इससे एग्ज़ामिनर आपके जवाब को समझ ही ना पाए और नंबर (Marks) कट जाएं।

     

    वैकल्पिक प्रश्नों में कटिंग से बचें

     

    वैकल्पिक  प्रश्नों में आपको आमतौर पर 4 में से सही जवाब चुनना होता है। इसमें जल्दबाज़ी बिल्कुल ना करें। सोच समझकर अपना फाइनल जवाब ही शीट पर लिखें। कटिंग करने से बचें। यदि जवाब बदलने की नौबत आती है तो ओवर राइटिंग बिल्कुल ना करें। सीधी लाइन लगाकर गलत जवाब को काटकर उसके आगे सही जवाब लिखें।

     

    सफाई और स्पेसिंग 

     

    अच्छी लिखावट के साथ-साथ स्वच्छता और प्रॉपर स्पेसिंग का भी बहुत महत्व है। उत्तर पुस्तिका (Answer Sheet) में लेफ्ट साइड की जगह छोड़कर लिखें। अलग-अलग रंगों के पेन के इस्तेमाल से बचें। एक ही पेन का इस्तेमाल करें और हेडिंग को हाइलाइट करने लिए शब्दों को अंडरलाइन करें। Maths और Science की परीक्षाओं में दाईं तरफ मार्जिन रखकर रफ वर्क करें। डायाग्राम बनाने के लिए पेंसिल का इस्तेमाल करें।

     

    समय का ध्यान रखें

     

    परीक्षा के समय घड़ी पर ज़रूर ध्यान रखें। किसी भी प्रश्न को जरूरत से ज़्यादा समय ना दें। यदि किसी कठिन प्रश्न को हल करने में बहुत ज़्यादा समय लग रहा है तो उसे आखिर के लिए छोड़ दें। वहीं, बातें करने और आस-पास की गतिविधियों पर ध्यान देकर समय बर्बाद ना करें।

     

    रिवाइज ज़रूर करें

     

    उत्तर लिखने के बाद अपनी आंसर शीट (Answer Sheet) को एक बार अच्छे से जांच ज़रूर लें कि कहीं कोई प्रश्न छूट तो नहीं गया है। इसके लिए आप साथ-साथ प्रश्न पत्र में पेंसिल से भी टिक कर सकते हैं। वहीं, किसी जवाब का कोई अंश लिखना छूट ना जाए इसके लिए जवाब लिखने के बाद भी एक बार चेक ज़रूर करें।

     

     

    Board Exams: परीक्षा केंद्र  में ऐसे करें बेहतर प्रदर्शन

     

     

     

    परीक्षा हॉल में यदि आप इन सभी बातों का ध्यान रखेंगे तो आप अपना बेस्ट अवश्य दे पाएंगे। इस ब्लॉग को अपने परिचित स्टूडेंट्स के साथ ज़रूर शेयर करें ताकि वे एग्ज़ाम (Exam) में अच्छा कर पाएं। निटर पर स्टूडेंट्स के लिए अन्य ब्लॉग्स भी उपलब्ध हैं जिनसे आपको करियर में मदद मिल सकती है।

     

     

     



    यह भी पढ़ें



    करियर गाइड की अन्य ब्लॉग