देश के 22 राज्यों को कोरोना ने फिर से घेरा

देश के 22 राज्यों को कोरोना ने फिर से घेरा

कोरोना एक बार फिर से देश में पैर पसार रहा है। देश के 140 ज़िले इससे बुरी तरह से प्रभावित हैं। आइए, देश में कोरोना संकट पर एक नज़र डालें।

02 March 2021

  • 59 Views
  • 2 Min Read

  • देश में कोरोना एक बार फिर से संकट पैदा कर रहा है। बीते कुछ दिनों में कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिली है। आलम ये है कि देश के 22 राज्यों के करीब 140 ज़िले बुरी तरह से कोरोना की गिरफ्त में आ चुके हैं। इस वक्त महाराष्ट्र कोरोना से सबसे ज़्यादा प्रभावित है।

     

    भारत 13वें स्थान पर:

     

    कोरोना के बढ़ते मामलों ने भारत को एक अनचाही रैंकिंग दे दी है। एक्टिव केस के मामले में भारत अब 13वें स्थान पर है। कुछ दिन पहले भारत 15वें पायदान पर था। वर्तमान में देश में करीब 1,68,358 एक्टिव मामले हैं। ये स्थिति ऐसी है कि हममें से कोई भी गर्व की अनुभूति नहीं कर सकता। ये रैंकिंग घटती, तो शायद देशवासी ज़्यादा गौरवान्वित महसूस करते। 

     

    * आंकड़े 1 मार्च 2021 के हैं

     

    140 ज़िलों में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार:

     

    आपको बता दें कि देश के 22 राज्यों के 140 ज़िलों में कोरोना के मामलों में तेज़ी देखने को मिली है। राज्यवार आंकड़ों की बात की जाए, तो महाराष्ट्र के 36, केरल के 9 और तमिलनाडु के 7 ज़िलों के अलावा गुजरात और पंजाब के क्रमशः 6 ज़िले बुरी तरह से प्रभावित हैं। ये वो ज़िले हैं, जहां कोरोना ने रफ्तार पकड़ी है।

     

    बीते 24 घंटों का हाल:

     

    आंकड़ों के मुताबिक, 1 मार्च (सोमवार) को कोरोना संक्रमण के करीब 12 हज़ार से अधिक नए मामले अस्तित्व में आए हैं। सर्वाधिक मामले महाराष्ट्र में देखने को मिले हैं, जहां 6,397 नए मामलों की पुष्टि हुई है।  

     

    रिकवरी रेट:

     

    कोरोना संकट के बीच भारत की कोविड रिकवरी रेट उतनी बुरी नहीं रही है। अब तक करीब 1,07,98,921 लोग कोरोना को मात देकर रिकवर हो चुके हैं। ये आंकड़े बताते हैं कि भारतीय, कोरोना को मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं।

     

    कोरोना पर वैक्सीनेशन का प्रहार:

     

    1 मार्च 2021 से देश में वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू हुआ। इस वैक्सीनेशन ड्राइव में करीब 10 करोड़ लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा गया है। अब तक करीब 1,48,54,136 लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है। यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी वैक्सीन लगवा चुके हैं।

     

    पहले दिन 25 लाख रजिस्ट्रेशन:

     

    वैक्सीनेशन ड्राइव के दूसरे चरण में लोग बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। आप इसका अंदाज़ा इसी बात से लगा सकते हैं कि सरकार के Co-Win पोर्टल पर पहले दिन ही करीब 25 लाख लोगों ने खुद को रजिस्टर किया। आपको बता दें कि 1 मार्च (सोमवार) की शाम तक करीब 1.46 लाख लोगों ने वैक्सीन का पहला डोज़ भी लिया।   

     

    हमें उम्मीद है कि आपको Knitter का यह ब्लॉग पसंद आया होगा। Knitter पर आपको बिज़नेस के अलावा कृषि एवं मशीनीकरण, एजुकेशन और करियर, सरकारी योजनाओं और ग्रामीण विकास जैसे मुद्दों पर भी कई महत्वपूर्ण ब्लॉग्स मिलेंगे। आप इनको पढ़कर अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं और दूसरों को भी इन्हें पढ़ने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

     

     

    लेखक- कुंदन भूत

     

    ट्रेंडिंग टॉपिक की अन्य ब्लॉग