प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में आवेदन कैसे करें? जानें

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) में कैसे मिलेगा आवास? जानें

प्रधानमंत्री आवास योजना (pradhan mantri awas yojana) देश के गांवों में रहने वाले गरीब परिवारों को पक्के मकान मुहैया करवाने के लिए है। आइए, इस योजना को जानें।


हर नागरिक की जरूरत होती है रोटी, कपड़ा और मकान। रोटी और कपड़े की मूलभूत ज़रूरत तो लगभग सभी की पूरी हो जाती है, लेकिन खुद का मकान हासिल कर पाना सबके नसीब में नहीं। इसकी बड़ी वजह महंगाई और गरीबी है। ऐसे में प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) से लाखों गरीब ग्रामीणों में एक आशा की किरण जगी है। इस योजना ने गरीबों को यह विश्वास दिलाया है कि आज नहीं तो कल आपका भी घर हो सकता है। 

 

तो आइए Knitter के इस ब्लॉग में हम लोग प्रधानमंत्री आवास योजना (pradhan mantri awas yojana) के बारे में आसान और सरल भाषा में जानेंगे।

 

यहां आप जानेंगे-

 

  • प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) क्या है?
  • प्रधानमंत्री आवास योजना का उद्देश्य क्या है?
  • प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की विशेषताएं क्या हैं?
  • प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के लिए पात्रता क्या है?
  • प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन कैसे करें?
  • इस पर एक्सपर्ट क्या कहते हैं?

 

प्रधानमंत्री आवास योजना

 

प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (PMAY) आपको अपना घर बनाने के लिए आर्थिक रूप से मदद करती है। इस योजना में निर्धन परिवारों को घर बनाने के लिए 1 लाख 20 हजार रुपये की सहायता दी जाती है। 

 

 

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) से बदलेगी गांवों  की तस्वीर

 

 

प्रधानमंत्री आवास योजना का उद्देश्य

 

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) (PMAY) का मुख्य उद्देश्य 2022 तक भारत में ग्रामीण क्षेत्रों में कच्चे घरों में रहने वाले लोगों को मूलभूत सुविधाओं के साथ पक्के मकान उपलब्ध कराना है। इसमें शौचालय, बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं भी शामिल है। 

 

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) (PMAY) की 10 बड़ी बातें

 
  1. 2022 तक हर किसी को घर मुहैया कराने पर है सरकार का फोकस
  2. दो चरणों में होगा मकानों का निर्माण
  1. पहले चरण (2016-2019) में 1 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य था
  2. दूसरे चरण (2019-2022) में 1.95 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य
  1. मैदानी क्षेत्रों में 1.20 लाख रुपये की वित्तीय सहायता जबकि पहाड़ी क्षेत्रों में 1.30 लाख रुपये की वित्तीय सहायता
  2. 25 वर्ग मीटर तक के मकान इस योजना में कवर किए जाते हैं, इसके पहले इंदिरा आवास योजना में यह लिमिट 20 वर्ग मीटर थी
  3. भवन निर्माण की अवधि 114 दिन की है, जबकि इसके पहले यह अवधि 314 दिनों की थी
  4. इस योजना के तहत मिलने वाली मदद सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में डाली जाती है
  5. लाभार्थियों की पहचान सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना के अनुसार की जाती है
  6. इस योजना के लिए केंद्र और राज्य सरकार दोनों मिलकर धनराशि मुहैया कराती है, इसमें 60 प्रतिशत राज्य और 40 प्रतिशत धनराशि केंद्र सरकार देती है जबकि पूर्वोत्तर राज्यों के लिए यह अनुपात 10:90 है
  7. जियो टैगिंग से आवास योजना पर नज़र रखी जाती है, जिससे भ्रष्टाचार की गुंजाइश कम हो जाती है
  8. आवेदन की प्रक्रिया बेहद आसान है और आवेदन के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों की सुविधा उपलब्ध है

 

 

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) (PMAY) के लिए पात्रता

 

  • ग्रामीण क्षेत्र का वह परिवार जिनके पास पक्का घर नहीं है
  • गरीब निर्धन परिवार 
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (SC/ST)
  • मुक्त हो चुके बंधुआ मज़दूर  
  • शहीद हुए रक्षा कर्मियों/अर्धसैनिक बलों के सैनिकों की विधवाओं और आश्रित-परिजन को
  • आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग को

 

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) में इन योजनाओं का भी मिलेगा लाभ

 

  • स्वच्छ भारत - शौचालय बनाने के लिए
  • सौभाग्य योजना - बिजली कनेक्शन के लिए
  • प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना - एलपीजी कनेक्शन के लिए
  • जल जीवन मिशन - पेयजल के लिए
  • मनरेगा - रोजगार के लिए

 

ऐसे करें आवेदन

 

इस योजना का लाभ लेने के लिए अभ्यर्थी ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से आवेदन कर सकते हैं। 

  1. ऑफलाइन आवेदन के लिए अभ्यर्थियों को अपने ग्राम पंचायत में आवेदन करना पड़ता है। ग्राम सभा ही उन लाभार्थियों की पहचान करती है। इसके लिए योग्य लाभार्थियों की अंतिम लिस्ट ग्राम सभा द्वारा प्रतिवर्ष जारी की जाती है।
  2. ऑनलाइन आवेदन के लिए अभ्यर्थियों को अपने ई-मित्र या जनसेवा केंद्र में आवेदन करना पड़ता है। इन आवेदनों की जांच भी खंड विकास कार्यालय या ग्राम पंचायत कार्यालय में की जाती है। जांच में इसके लिए योग्य पाए जाने पर लाभार्थी का नाम अंतिम सूची में दर्ज कर लिया जाता है। 

 

 

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) से बदलेगी गांवों  की तस्वीर

 

यदि आप ऐसी ही और जानकारी पाना चाहते हैं, तो हमारे अन्य ब्लॉग ज़रूर पढ़ें। ब्लॉग को शेयर करना न भूलें।  

 

 

✍️

लेखक- दीपक गुप्ता

 



यह भी पढ़ें



केन्द्र सरकार की योजनाएं की अन्य ब्लॉग