अब भारत से भाग रहा है कोरोना वायरस, जानें वजह

कोरोना से जंग में भारत का कमाल, हार रही है महामारी

कोरोना वायरस अब भारत में हार रहा है। देश में कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत के बाद महामारी को मात देने की ये खुशखबरी आई है।

10 February 2021

  • 242 Views
  • 2 Min Read

  • कोरोना महामारी को लेकर पूरे देश के लिए राहत भरी खबर है। अब देश में वायरस का कहर हर दिन कम होता जा रहा है। महज़ 2 राज्यों को छोड़कर पूरे भारत में कोरोना वायरस का पॉज़िटिविटी रेट 10 प्रतिशत से कम है। इसका मतलब है कि 100 में से 10 से भी कम लोग वायरस की चपेट में आ रहे हैं। 9 फरवरी को देश के 15 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से एक भी मौत दर्ज नहीं हुई है। मंगलवार को देश में महामारी ने 77 लोगों की जान ली। 

     

     

    देश में तेज़ी से भाग रहा कोरोना, दिल्ली से आई खुशखबरी

     

    देश में लगातार कोरोना से मौत के मामले कम हो रहे हैं। खुशखबरी ये भी है कि कोरोना से हर दिन होने वाली मौंते अब भारत में कम हो चुकी हैं। भारत इस मामले में दुनिया के टॉप-20 देशों की लिस्ट से बाहर आ गया है। भारत का स्थान अब लिस्ट में 22वां है। अभी भी अमेरिका, ब्राजील और ब्रिटेन में सबसे ज़्यादा मौत कोरोना की वजह से हो रही हैं। 

     

    यहां मिल रहे सबसे कम मरीज

     

    राजस्थान, मध्यप्रदेश, तमिलनाडु, पंजाब, गुजरात, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक समेत 13 राज्य और UT ऐसे हैं जहां पॉजिटिविटी रेट 5.4% से 10% तक है।

     

    दिल्ली के लिए राहत भरी खबर

     

    राजधानी दिल्ली में भी कोरोना वायरस ने घुटने टेकने शुरू कर दिए हैं। इस तथ्य की पुष्टि कर रहे हैं मंगलवार यानी 9 फरवरी को आए आंकड़े। पिछले 10 महीनों में ये पहला दिन है, जब राजधानी में कोरोना से कोई मौत नहीं हुई। दिल्ली में अब रिकवरी रेट 98.12 प्रतिशत हो गया है। वहीं, वायरस की संक्रमण दर घटकर 0.18 फीसदी हो गई है। 

     

     

    देश में तेज़ी से भाग रहा कोरोना, दिल्ली से आई खुशखबरी

     

    वैक्सीनेशन में दुनिया में सबसे आगे भारत

     

    16 जनवरी को देश में कोरोना वैक्सीनेशन का कार्यक्रम शुरू हुआ था। इस मामले में अब भारत ने दुनिया के अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देशों को पीछे छोड़ दिया है। 60 लाख से ज़्यादा लोगों को अब तक वैक्सीन दी जा चुकी है। 

     

    महाराष्ट्र और केरल के हालात खराब

     

    महाराष्ट्र और केरल जैसे राज्यों में अब भी कोरोना महामारी कहर बरपा रही है। महाराष्ट्र में 9 फरवरी को 2 हज़ार से ज़्यादा कोरोना के केस आए तो वहीं, केरल में महज़ एक स्कूल से 200 से ज़्यादा केस सामने आने के बाद हड़कंप मच गया।

     

    भारत में कोरोना वॉरियर्स के काम और भारतीय जीवन शैली इस महामारी से जंग में एक बड़ा हथियार साबित हुई है। इसलिए हमारी आप से अपील है कि कोरोना को हराने के लिए सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का ज़रूर पालन करें।

     

    Knitter आपको कृषि एवं मशीनीकरण, एजुकेशन और करियर, सरकारी योजनाओं और ग्रामीण विकास जैसे मुद्दों पर भी कई महत्वपूर्ण ब्लॉग्स मिलेंगे, जिनको पढ़कर अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं और दूसरों को भी इन्हें पढ़ने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

     

    ✍️

    लेखक- नितिन गुप्ता 

     



    यह भी पढ़ें



    ट्रेंडिंग टॉपिक की अन्य ब्लॉग