फ्री में फास्टैग पाने के लिए करना होगा ये काम

यहां से लीजिए फ्री में फास्टैग, जानें क्या हैं नियम?

गाड़ियों में फास्टैग ज़रूरी हो चुका है। फास्टैग का इस्तेमाल न करने पर जुर्माना भी भरना पड़ सकता है। ऐसे में आपके पास मौका है फ्री में फास्टैग हासिल करने का।

23 February 2021

  • 147 Views
  • 2 Min Read

  • पूरे देश में टोल टैक्स को कैशलेस बनाने के मकसद से फास्टैग प्रणाली को लागू कर दिया गया है। हाल ही में फास्टैग न होने पर जुर्माने का प्रावधान भी किया गया है। ऐसे में फास्टैग का न होना, किसी मुसीबत से कम नहीं होगा। लेकिन, अब आपके पास है मौका, फ्री में फास्टैग लगवाने का, क्योंकि बिना किसी शुल्क के NHAI यानी राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकारण फास्टैग दे रहा है।

     

     

    NHAI ने FASTag को मुफ्त में देने का ऐलान कर दिया है। 1 मार्च तक NHAI की इस सुविधा का आप लाभ उठा सकते हैं। अभी तक ग्राहकों को इसके लिए 100 रुपये तक चार्ज देना पड़ता था। लेकिन, अब ये फ्री में मिल रहा है। इस सुविधा का मकसद वाहन मालिकों को फास्टैग खरीदने के लिए प्रोत्साहित करना है। 

     

    यहां मिलेगा फ्री में फास्टैग

     

    फास्टैग को हर ग्राहक तक पहुंचाने के लिए टोल प्लाज़ा पर फास्टैग बूथ लगाए जा रहे हैं। इन बूथों के माध्यम से ग्राहक अपना फास्टैग ले सकते हैं। इसके लिए आपको अपना आधार कार्ड ले जाना होगा। 

     

    रीचार्ज के लिए 40 हज़ार से ज़्यादा बूथ मौजूद

     

    फास्टैग को रीचार्ज करने के लिए देशभर में 40 हज़ार से ज़्यादा बूथ बनाए गए हैं। आप ऑनलाइन माध्यम से भी इसे रीचार्ज कर सकते हैं। इसके अलावा बैंक और पेटीएम के ज़रिए भी इसे खरीदा जा सकता है।

     

    ऐसे काम करता है फास्टैग

     

    इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम में फास्टैग के ज़रिए वाहनों से टैक्स लिया जाता है। ये स्टीकर की तरह होता है, जिसमें एक चिप होती है। इसे गाड़ियों के आगे वाले शीशे पर चिपकाया जाता है। ये रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टेक्नोलॉजी से लैस है, जिसमें आपकी गाड़ी की सारी जानकारी मौजूद होती है। इससे टोल प्लाजा पर रुककर टोल टैक्स के पैसे कैश नहीं देने होते, बल्कि आपके एकाउंट से कट जाते हैं।    

     

    मिस्ड कॉल से बैलेंस की जानकारी

     

    अगर आपने गूगल प्ले से My FASTag ऐप डाउनलोड कर रखा है तो ऑनलाइन आप फास्टैग का बैलेंस चेक कर सकते हैं। वहीं, NHAI वाहन मालिकों को मिस्ड कॉल अलर्ट सुविधा भी देती है। रजिस्टर ग्राहक 8884333331 पर मिस्ड कॉल कर बैलेंस जान सकते हैं।

     

    टोल प्‍लाजा पर फास्टैग अनिवार्य

     

    कई बार वाहनों पर फास्‍टैग (FASTag) लगाने की समयसीमा बढ़ाई गई है। लेकिन, इस पर 16 फरवरी से इसे अनिवार्य कर दिया गया था। अगर आपके वाहन पर फास्टैग नहीं है तो जुर्माने या दोगुना टोल टैक्स देना पड़ सकता है। 

     

    बहरहाल, यह तो हुई आप सभी के फायदे की बात। लेकिन, Knitter पर आपको कृषि एवं मशीनीकरण, एजुकेशन और करियर, सरकारी योजनाओं और ग्रामीण विकास जैसे मुद्दों पर भी कई महत्वपूर्ण ब्लॉग्स मिलेंगे, जिनको पढ़कर अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं और दूसरों को भी इन्हें पढ़ने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

     

    ✍️

    लेखक- नितिन गुप्ता 

     



    यह भी पढ़ें



    ट्रेंडिंग टॉपिक की अन्य ब्लॉग