कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे फेज़ में कौन? जानिए यहां

कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे फेज़ में किसे फायदा? जानिए यहां

16 जनवरी को भारत में कोरोना का टीका लगना शुरू हुआ था। अब तक 1 करोड़ से ज़्यादा वैक्सीन लग चुकी है। अगले चरण में 60 साल से ज़्यादा उम्र के मरीज़ों को टीका लगेगा।

25 February 2021

  • 349 Views
  • 2 Min Read

  • देश में कोरोना के खिलाफ जंग जारी है। वैक्सीनेशन यानी कोरोना वायरस रोधी टीका अभियान रफ्तार पकड़ रहा है। अब तक एक करोड़ से ज़्यादा कोरोना वॉरियर्स को टीका लगाया जा चुका है। 

     

    कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे फेज़ में बुज़ुर्गों और गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों को निःशुल्क टीका लगाने की तैयारी है। कोरोना वैक्सीनेशन का ये दूसरा फेज़ 1 मार्च से शुरू हो रहा है। इस दूसरे फेज़ में 60 साल से ऊपर यानी वरिष्ठ नागरिकों को टीका लगाया जाएगा। वहीं, 45 साल से ऊपर के बीमार लोगों को भी निःशुल्क टीकाकरण किया जाएगा। 

     

     

    निजी अस्पतालों में लगेगी फीस

     

    सरकारी केंद्रों पर कोरोना की वैक्सीन के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। वहीं, निजी अस्पतालों में वैक्सीन के लिए चार्ज देना पड़ सकता है। कितनी फीस आपको निजी अस्पतालों में देनी होगी, इस पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। 

     

    जानकारी के मुताबिक, करीब 10 हजार सरकारी केंद्र और 20 हजार निजी अस्पताल ऐसे हैं, जहां कोरोना का ये टीका लगाया जाएगा। 

     

    दुनिया में भारत का 5वां स्थान

     

    भारत में 16 जनवरी को कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत हुई थी। पहले फेज़ में कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन दी गई थी। बीते दिनों 1 करोड़ से ज़्यादा लोगों को वैक्सीन का डोज़ मिल चुका है। सबसे ज्यादा अमेरिका में 6.41 करोड़,  चीन में 4.05 करोड़, यूरोपीय संघ में 2.7 करोड़, यूके में 1.8 करोड़ और भारत में 1.19 करोड़ लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।

     

    दूसरे फेज़ में नया नियम

     

    दूसरे चरण में आपको CO-WIN ऐप पर पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके बाद आपकी लोकेशन के हिसाब से वैक्सीनेशन का वक्त और जगह सुनिश्चित की जाएगी। इसमें आपको प्राइवेट या पब्लिक सेंटर्स को चुनने का मौका मिलेगा।

     

    महाराष्ट्र में बढ़ रही है चिंता

     

    महाराष्ट्र में कोरोना एक बार फिर बेकाबू होता दिखाई दे रहा है। 24 फरवरी 2021 को रिकॉर्ड 8 हजार से ज़्यादा नए मरीज़ मिलने से हड़कंप मच गया। आंकड़ों के अनुसार, यहां 8807 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 21 अक्टूबर 2020 को 8,142 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे।

     

    एक  हॉस्टल के 190 छात्र संक्रमित

     

    महाराष्ट्र में एक हॉस्टल में कोरोना विस्फोट हुआ। वाशिम जिले के एक स्कूल के हॉस्टल में एक साथ 190 छात्रों के पॉजिटिव मिलने के बाद स्कूल प्रबंधन और प्रशासन में हड़कंप मच गया। इसके बाद स्कूल परिसर को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है।

     

    वैसे महामारी के खिलाफ जंग अभी जारी है। इसलिए ज़रूरी है कि हम एहतियात के साथ रहें। वैक्सीनेशन की प्रक्रिया के साथ-साथ सावधानी ही हमें इस महामारी से बचा सकती है। इसलिए इन नियमों का पालन ज़रूर करें…

     

    • हमेशा मास्क पहनकर ही बाहर जाएं
    • सार्वजनिक स्थानों पर 3 मीटर की दूरी बनाए रखें
    • नियमित रूप से हाथ धोते रहें
    • सेनेटाइजेशन का पूरा ध्यान रखें
    • खांसी, बुखार या जुकाम होने पर तुरंत हेल्पलाइन नंबर- 1075 पर संपर्क करें   

     

    Knitter पर आपको कृषि एवं मशीनीकरण, एजुकेशन और करियर, सरकारी योजनाओं और ग्रामीण विकास जैसे मुद्दों पर भी कई महत्वपूर्ण ब्लॉग्स मिलेंगे, जिनको पढ़कर अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं और दूसरों को भी इन्हें पढ़ने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।   

     

     

    ✍️ लेखक- नितिन गुप्ता 

     



    यह भी पढ़ें



    ट्रेंडिंग टॉपिक की अन्य ब्लॉग